google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
बिजनौर

“अन्नू तुझे घर-घर तिरंगा देने की बहुत खुशी है, तेरा भी सिर तन से अलग करना पड़ेगा – ISI के साथी”

Bengali Bengali English English Hindi Hindi Marathi Marathi Nepali Nepali Punjabi Punjabi Urdu Urdu

दुर्गा प्रसाद शुक्ला की रिपोर्ट 

बिजनौर। जहां एक ओर स्वतंत्रता की 76वीं वर्षगांठ के मौके पर आजादी के अमृत महोत्सव में हर कोई जश्न में डूबा हुआ था तो वहीं बिजनौर के एक गरीब परिवार को तिरंगा झंडा बांटने पर सिर कलम करने की धमकी भरा पत्र मिलने से पूरा परिवार दहशत व सदमे में है। पुलिस प्रशासन ने पुलिस परिवार को सुरक्षा मुहैया करा दी है। साथ ही अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस की कई टीमें लगाकर जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0106(1)

IMG-20220916-WA0106(1)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

अरुण कश्यप उर्फ अन्नू एक छोटे से मकान में अपने परिवार के साथ बिजनौर के बुद्धुपाड़ा इलाके में रहता है। 14 अगस्त की सुबह अरुण कश्यप के परिवार ने उठ कर देखा कि इनके मकान के मुख्य दीवार पर हाथ से लिखी चंद लाइन का धमकी भरा एक कागज चस्पा था। दीवार पर चिपके कागज़ की इबारत कुछ इस तरह लिखी है, “अन्नू तुझे घर-घर तिरंगा देने की बहुत खुशी है। तेरा भी सिर तन से अलग करना पड़ेगा-ISI के साथी।” धमकी भरा पत्र देखकर पुलिस के अफसरों के भी होश उड़ गए आनन-फानन में अरुण कश्यप के परिवार के घर सुरक्षा मुहैया करा दी गई। साथ ही पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ संगीन धाराओं में केस दर्ज कर सीओ की अगुवाई में कई पुलिस की टीम लगाकर मामले की जांच की जा रही हैं। एसपी सिटी, बिजनौर डॉ प्रवीन रंजन सिंह ने कहा कि मामले में जो भी तथ्य सामने आएगा प्रभावी तरिके से कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

अरुण कश्यप की माने तो उनका परिवार खौफ़ के मारे बेहद दहशतज़दा है। पूरा परिवार छोटे से कमरे में कैद हो चला है। परिवार की आंखों व चेहरे पर खौफ व दहशत की लकीरें साफ तौर पर देखी जा सकती है। अरुण कशयप का कहना है कि जिसने भी ऐसी हरकत की हैं वो जल्द पुलिस की गिरफ्त में होना चाहिए। साथ ही कश्यप का पूरा परिवार धमकी भरे पत्र मिलने के बाद दहशत में है।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close