Gonda

खुद नहीं बन पाए आईएएस लेकिन इन बच्चों की आंखों में इसकी अलख जगाने वाले इस पुलिस वाले को जानिए

दुर्गा प्रसाद शुक्ला की रिपोर्ट 

गोंडा: पुलिस का नाम सुनते ही आम हो या खास एक बार डर जरूर जाता है। हालांकि उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान इस छवि को बदलने में जुट गए है। यहां जवान डर नहीं बेहतर शिक्षा की गरीब बच्चों में अलख जगा रहे हैं। 

गोंडा जिले से एक सिपाही ड्यूटी के साथ ही समाज में पुलिस को छवि को बेहतर बनाने का काम कर रहा है। सिपाही मो. जाफर अपनी ड्यूटी खत्म करने के बाद रोज एक घंटे गरीब बच्चों को निशुल्क पढ़ाते है। मो. जाफर चचरी पुलिस चौकी के बगल रोज पुलिस सर की पाठशाला एक पेड़ के नीचे चलाते है। यहां वो किसी भी बच्चे से फीस नहीं लेते।

IMG_COM_20230613_0209_43_1301

IMG_COM_20230613_0209_43_1301

IMG_COM_20230629_1926_36_5501

IMG_COM_20230629_1926_36_5501

IMG_COM_20231006_1759_14_3141

IMG_COM_20231006_1759_14_3141

IMG_COM_20231127_2111_47_1471

IMG_COM_20231127_2111_47_1471

navbharat-times-105818370

navbharat-times-105818370

IMG_COM_20231210_2108_40_5351

IMG_COM_20231210_2108_40_5351

पुलिस सर की इस पाठशाला में कक्षा 1 से 10 तक के बच्चे ट्यूशन पढ़ने आते हैं। यहां एक घंटे में बच्चों को गणित, साइंस समेत लगभग सभी विषयों की क्लास करने को मिलती है। इसी पाठशाला में नवोदय स्कूल में एडमिशन लेने की तैयारी करने वाले भी बच्चे ट्यूशन पढ़ते है। रोज ट्यूशन पढ़ने आने वाले 7वीं क्लास के करन और शिवानी कश्यप का कहना है कि पुलिस सर बहुत ही शानदार पढ़ाते है। उन्हें इससे काफी मदद मिलती है। प्राइवेट ट्यूशन पढ़ने के लिए उनके पास पैसा नहीं था, लेकिन मो. जाफर सर की क्लास ने काफी मदद कर दी। दो बच्चों के पिता रणवीर सिंह का कहना है कि पुलिस सर रोजाना बच्चों को निशुल्क पढ़ाते है। ये बहुत ही शानदार पहल है।

सिविल सर्विसेज में जाना चाहते थे मो. जाफर

सिपाही मो. जाफर का कहना है कि अपनी ड्यूटी खत्म करने के बाद वह घूमने-टहलने नहीं जाते। इसकी जगह रोज गरीब बच्चों को विद्यादान करते है। साइंस से ग्रेजुएशन करने वाले मो. जाफर का सिविल सर्विसेज में जाने का सपना था, जो नहीं पूरा हो पाया। मो. जाफर ने आईएएस और आईपीएस बनने का सपना देखा था। अब वह चाहते है कि मेरे पढ़ाए इन बच्चों में कोई भी अगर कामयाब हो गया तो उनकी ख्वाहिश पूरी हो जाएगी।

उन्होंने बताया कि गोंडा जिले के करनैलगंज कोतवाली क्षेत्र के चचरी पुलिस चौकी के बगल रोजाना शाम को 4 बजे पुलिस सर की यह पाठशाला चलती है।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close
%d