google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0  
देवरिया

‘आत्मनिर्भरता की बात-जिलाधिकारी के साथ’ कार्यक्रम का आयोजन

राकेश तिवारी की रिपोर्ट 

देवरिया। नेहरू युवा केन्द्र देवरिया के तत्वाधान में केन्द्र से संबद्ध संस्था खुशी जन सेवा समिति बहरामपुर, रामपुर कारखाना द्वारा ‘आत्मनिर्भरता की बात-जिलाधिकारी के साथ’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में जिलाधिकारी जितेंद्र प्रताप सिंह ने संस्था को उपलब्ध कराई गई ऑटोमेटिक सिलाई मशीन का उद्घाटन किया। इसके पश्चात उन्होंने क्षेत्र से आई हुई अनेक युवतियों से आत्मनिर्भरता एवं स्वावलंबन पर आधारित संवाद भी किया।

IMG_COM_20230602_0658_37_4381

IMG_COM_20230602_0658_37_4381

IMG_COM_20230602_1933_40_4331

IMG_COM_20230602_1933_40_4331

जिलाधिकारी ने कहा कि हमारे इर्द-गिर्द कई ऐसे लोग स्टार परफ़ॉर्मर के रूप में मौजूद हैं, जो अपने आस-पास बदलाव लाने का प्रयास कर रहे हैं। छोटे-छोटे प्रयासों से लोगों की जिंदगी में बड़े बदलाव ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसी को पैसे देने से कहीं बेहतर होता है किसी को हुनर सिखाना। बड़े बदलाव के लिए सरकार के साथ-साथ निजी क्षेत्र की सहभागिता भी अत्यंत आवश्यक है। नेहरू युवा केन्द्र, वन स्टॉप सेंटर, रेडक्रॉस सोसायटी जैसी संस्थाओं के माध्यम से लोगों को आवश्यक मदद उपलब्ध कराई जा रही है।

जिलाधिकारी ने कहा कि महिलाओं की समृद्धि का लाभ पूरे परिवार को मिलता है। इसलिए पुरुषों को पुरानी रूढ़ियों को तोड़ते हुए महिलाओं को आगे बढ़ने में उनकी मदद करनी चाहिए।

जिला युवा अधिकारी विकास तिवारी द्वारा कार्यक्रम के लक्ष्यों एवं उद्देश्यों के विषय में अवगत कराते हुए बताया गया कि नेहरू युवा केन्द्र द्वारा बुनियादी व्यवसायिक शिक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत आयोजित होने वाले सिलाई कढ़ाई प्रशिक्षण से यद्यपि विभाग द्वारा युवतियों को प्रशिक्षित तो किया जाता है परंतु इस प्रशिक्षण से अर्जित ज्ञान से व्यावसायिक गतिविधियों के संचालन में जिलाधिकारी द्वारा की गई इस प्रकार की पहल की बहुत महत्वपूर्ण भूमिका है। अब हर हुनरमन्द को उसके योग्यता एवं दक्षता के अनुसार उपलब्ध अवसरों की पहचान कर पाने के लिए प्रेरित करना होगा।

संस्था की संचालिका नेहरू युवा केन्द्र की पूर्व एन0एस0वी0 शाइस्ता परवीन ने कहा कि हम लोग जब ऑटोमेटिक सिलाई मशीन खरीद पाना उनके बस की बात नहीं थी। उसे खरीदना एक सपने जैसा लगता था। उन्होंने कहा कि जिलाधिकारी की पहल के बाद दो-दो औटोमेटिक सिलाई मशीन मिलना एक सपने के पूरे होने जैसा है।

जिलाधिकारी के प्रयासों के फलस्वरूप खुशी जन सेवा समिति की शाइस्ता परवीन को दो ऑटोमेटिक सिलाई मशीन मिले हैं, जिससे उनके केन्द्र पर प्रशिक्षण प्राप्त कर रही युवतियों के आत्मविश्वास में न केवल वृद्धि हुई है अपितु अब उन्हें यदि वृहद स्तर पर कोई कार्य आवंटन होता है तो वे सिलाई किये हुए सामान की आपूर्ति भी आसानी से कर सकती हैं। इससे होने वाली आय से उनके जीवन स्तर में गुणात्मक परिवर्तन होगा।

कार्यक्रम के दौरान रेड क्रॉस सोसाइटी देवरिया के सचिव अखिलेन्द्र शाही, उपायुक्त, जिला उद्योग देवरिया, वन स्टॉप सेंटर से मीनू जायसवाल सहित समस्त स्टाफ जन शिक्षण संस्थान से विजय यादव, अश्वनी कुमार, हरेंद्र यादव, स्नेहा, नेहरू युवा केन्द्र के राष्ट्रीय युवा स्वयंसेवक देवव्रत पांडे, शुभम त्रिपाठी, गरिमा पाण्डेय सहित रंजना समीना खातून प्रिया चौरसिया खुशबू सिंह शिवा खातून शबनम खातून मुस्कान खातून सुमन देवी शिवानी जायसवाल आदि उपस्थित थे।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close
%d bloggers like this: