google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
Gonda

युवक के दोनों हाथ काट डाले; रुपए लूटने की संभावना

Bengali Bengali English English Hindi Hindi Marathi Marathi Nepali Nepali Punjabi Punjabi Urdu Urdu

आर के मिश्रा की रिपोर्ट 

गोंडा। सीतापुर जिला अस्पताल में भर्ती हरगांव इलाके के युवक ने नवाबगंज-गोंडा के तीन लोगों पर दोनों हाथ काट देने का आरोप लगाया है। हाथ काटने वालों के नाम उसे नहीं मालूम हैं। वह सामने आने पर पहचान लेने और घर का पता जानने का दावा कर रहा है।

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0106(1)

IMG-20220916-WA0106(1)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

बेमनपुरवा का रहने वाला राजेश कुमार पुत्र रामलाल के दोनों हाथ कलाइयों के आगे से काट दिए गए हैं। उसने बताया कि वह गोंडा जिले के नवाबगंज में तम्बाकू बनाने का काम करता है। दो दिन पहले घर के लिए निकला था। रास्ते मे तीन लोगों ने उसे रोक लिया और रुपये मांगे।

विरोध करने पर धारदार हथियार से उसके हाथ काट दिए। गोंडा पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से रेफर कर दिया गया। गोंडा पुलिस पर सुनवाई न करने का आरोप भी लगाया है। जबकि बताया यह भी जा रहा है कि गोंडा के नवाबगंज कस्बे के कटी तिराहे के पास स्थित एक मजार के पास रेलवे ट्रैक के बगल में बुधवार की सुबह रेलवे के गेटमैन ने एक युवक को गंभीर हालत में पड़ा हुआ देखा।

इसके दोनों हाथ कटे थे। डायल 112 ने स्थानीय सीएचसी पर भर्ती कराया था। बाद में मनकापुर जीआरपी पुलिस उसे पूछताछ के लिए अपने साथ मनकापुर ले गई थी। जहां उसकी हालत को देखते हुए उसे गोंडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। घायल ने अपना नाम राजेश कुमार बताया था।

हाथ कैसे कटा इस बारे में कोई जानकारी उसने नहीं दी थी। आसपास के लोग युवक को रेलवे लाइन पर फेंके जाने की आशंका जता रहे थे। नवाबगंज प्रभारी निरीक्षक तेज प्रताप सिंह ने बताया कि युवक के हाथ कटने की सूचना मिली थी। मौके पर पुलिस भी भेजी गई लेकिन, कुछ पता नहीं चल सका। जीआरपी वाले शायद उसे अपने साथ लेकर चले गए हैं। मामले के बारे में जानकारी हासिल करने का प्रयास किया जा रहा है।

बता दें कि नवाबगंज में तंबाकू की खेती बड़े पैमाने पर की जाती है। सीतापुर, आजमगढ़ व लखीमपुर खीरी के लोग मजदूरी के लिए जाते हैं। श्रमिक रामदीन के मुताबिक मजदूरी को लेकर आए दिन हाथापाई की जाती है। पुलिस से शिकायत करने के बावजूद कोई कार्रवाई खेत मालिकों पर नहीं की जाती है। खेत मालिकों के डर से वह लोग भी नहीं बोल पाते हैं।

श्रमिक ने आशंका जताई कि मजदूरी को लेकर ही हमला किया गया होगा। जो पुलिस जांच के बाद ही सामने आ सकेगा। गोंडा अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज ने कहा कि इस मामले की जानकारी उन्हें नहीं है। बावजूद इसके नवाबगंज पुलिस व मनकापुर जीआरपी से जानकारी ली जा रही है।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close