google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
काण्डीगढ़वाझारखंड

बिजली की आंख मिचौली से तंग लोगों ने जड़ दिया ताला बिजली घर में

Bengali Bengali English English Hindi Hindi Marathi Marathi Nepali Nepali Punjabi Punjabi Urdu Urdu

संवाददाता- विवेक चौबे

गढ़वा : जिले के कांडी प्रखंड में बिजली की समस्या से लोग परेशान हैं। बिजली की आंख मिचौली से परेशान लोगों की समस्या पर भाजपाइयों ने कांडी बिजली सब स्टेशन पहुंचकर ताला बंद करने की चेतावनी दी।

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0106(1)

IMG-20220916-WA0106(1)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

बता दें कि भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष रामलाला दुबे सहित भाजपा के कई सदस्यों ने शनिवार को कांडी बिजली सब स्टेशन पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। बरसात का मौसम होने के बावजूद भी बारिश नहीं हो रही है। पानी के अभाव में किसानों के बिचड़े सूख रहे हैं। कुछ किसानों ने डीजल पम्प की मदद से अपने बलबूते पर धान की रोपनी भी की है, वह भी सूख रहा है। बारिश नहीं होने के कारण भीषण गर्मी से लोग परेशान हैं। यदि बिजली आपूर्ति ठीक से होती तो मोटर वैगरह चलाकर बिचड़े को बचाया जा सकता था।

कांडी के चंद्रपुरा, बहेरवा व लमारी कला फीडर में बड़ी मुश्किल से सात-आठ घंटे तक ही बिजली रहती है, जो अपर्याप्त है। कांडी बिजली सब स्टेशन में ड्यूटी पर मौजूद अमित कुमार व विनोद चौहान ने बताया कि गढ़वा से ही बिजली कम मिल रही है। पीछले 24 घंटे में चंद्रपुरा फीडर में 9 घंटे, लमारी कला फीडर में 8 घंटे, बहेरवा फीडर में 7 घंटे व कांडी फीडर में केवल 13 घंटे ही बिजली आपूर्ति की गई है। 

भाजपा किसान मोर्चा के जिलाध्यक्ष रामलाला दुबे ने बिजली विभाग के एसडीओ व कनीय विद्युत अभियंता को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उक्त प्रखंड में बिजली की व्यवस्था में जल्द सुधार नहीं होता है तो वे प्रखंड के सैकड़ो किसानों के साथ बिजली सब स्टेशन में ताला बंद कर देंगे।

मौके पर भाजपा के कांडी मंंडल महामंत्री शशिरंजन दुबे, पूर्व मुखिया व भाजपा नेता विनोद प्रसाद, कांडी मुखिया विजय राम, पंचायत समिति सदस्य प्रतिनिधि अनुप कुमार सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित थे।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close