google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
Uncategorized

सुसाशन; जिले के एकमात्र जीवित वृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की रुकी पेंशन

Bengali Bengali English English Hindi Hindi Marathi Marathi Nepali Nepali Punjabi Punjabi Urdu Urdu

संदीप कुमार शुक्ल की रिपोर्ट 

कर्नलगंज, गोण्डा। जिले में आम जनमानस की तो बात ही छोड़िए अब स्वतंत्रता संग्राम सेनानी की भी पेंशन रुक गयी है जिससे वृद्ध स्वतंत्रता संग्राम सेनानी काफी हैरान परेशान होकर जिम्मेदार आला अधिकारियों के चक्कर काट रहे हैं। उन्होंने जिम्मेदार लोगों से पेंशन पुन: चालू कराने की मांग की है। 

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0106(1)

IMG-20220916-WA0106(1)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

बताते चलें कि देवीपाटन मण्डल गोंडा के एकमात्र जीवित स्वतंत्रता संग्राम सेनानी राम अचल आचार्य केन्द्र सरकार द्वारा दी जाने वाली पेंशन रुक जाने से काफी परेशान हैं।

श्री आचार्य ने बताया कि उन्हें केन्द्र और राज्य सरकार द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों को दी जाने वाली पेंशन मिल रही थी, लेकिन बीते मार्च माह से उन्हें केन्द्र सरकार द्वारा दी जाने वाली पेंशन नहींं मिल रही है। जबकि प्रदेश सरकार द्वारा दी जाने वाली पेंशन लगातार मिल रही है। उन्होंने बताया कि वह पूरे देवीपाटन मण्डल में एकमात्र जीवित स्वतंत्रता संग्राम सेनानी हैं और जब सरकार एकमात्र स्वतंत्रता संग्राम सेनानी को नियमित पेंशन नहीं दे पा रही है तो अन्य लोगों की तमाम पेंशन की स्थिति क्या होगी, इसका  सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। उन्होंने जिम्मेदार लोगों से पेंशन पुन: चालू कराने की मांग की है जिससे इस वृद्धावस्था में उन्हें किसी पर आश्रित ना होना पड़े।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close