google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
इंदौरमध्य प्रदेश

पहले तो दहेज के लिए कहर बरपाते थे ससुराली अब बेटी पैदा हुई तो हद ही कर दी सितम ढाने की

Bengali Bengali English English Hindi Hindi Marathi Marathi Nepali Nepali Punjabi Punjabi Urdu Urdu

पुनीत नौटियाल की रिपोर्ट  

इंदौर। यहां की बेटी ने नोएडा के रिसर्च साइंटिस्ट पति पर दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया है। पीड़िता के मुताबिक पति और ससुराल पक्ष के लोग शादी के तीन महीने बाद से ही दहेज को लेकर प्रताड़ित कर रहे थे। बेटी पैदा होने पर धमकाने लगे। और ज्यादा दहेज की डिमांड करने लगे। जून 2022 में उसे घर से निकाल दिया। पीड़िता ने शनिवार देर रात पति के अलावा ससुर (रेलवे से रिटायर्ड अफसर), सास, ननद और जेठानी के खिलाफ दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया है।

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0119

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0117

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0116

IMG-20220916-WA0106(1)

IMG-20220916-WA0106(1)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

DOC-20220919-WA0001.-1(6421405624112)

पति ने पीटा, सास-ससुर देते थे ताने

TI ज्योति शर्मा के मुताबिक लक्ष्मणपुरा इंदौर में रहने वाली ज्योति वर्मा के पति नोएडा में रिसर्च साइंटिस्ट हैं। पीड़िता ज्योति ने बताया कि 22 अप्रैल 2015 को उसकी शादी हुई थी। पापा ने कार और नकदी सहित घर गृहस्थी का सामान दिया था। शादी के तीन माह बाद ही पति छोटी-छोटी बातों को लेकर विवाद करने लगे। सास-ससुर ने कम दहेज लाने को लेकर मुझे और मेरे परिवार के बारे में अशोभनीय बातें कहीं। इसके साथ ही पति ने शराब के नशे में मारपीट की।

बेटी पैदा होते ही प्रताड़ना बढ़ी

ज्योति ने बताया कि शादी के एक साल बाद 2016 में उसने बेटी को जन्म दिया। उसे लगा कि पति अनूप का व्यवहार ठीक हो जाएगा। लेकिन बेटी होने से वह और नाराज हो गया। उसकी प्रताड़ना लगातार बढ़ने लगी। इसके बाद पति और ससुराल वाले पांच लाख रुपए की और डिमांड करने लगे।

पीड़िता बोली– पति ने एक दिन मेरा गला दबा दिया और धमकाया कि दहेज में मिली जो कार तेरे नाम पर है, उसे भी मेरे नाम पर करवा दे। साथ ही मुझे धमकी दी कि पांच लाख रुपए लाने के बाद ही घर में आने देंगे। जून 2022 में अपनी शर्तों के मुताबिक काम करने की बात कहकर पति और सास-ससुर ने मुझे घर से निकाल दिया।

Tags

samachar

"ज़िद है दुनिया जीतने की" "हटो व्योम के मेघ पंथ से स्वर्ग लूटने हम आते हैं"
Back to top button
Close
Close