google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
उत्तर प्रदेशदेवरिया

राष्ट्रीय युवा दिवस पर याद किए गए युग प्रवर्तक स्वामी विवेकानंद

Bengali Bengali English English Hindi Hindi Marathi Marathi Nepali Nepali Punjabi Punjabi Urdu Urdu

सर्वेश द्विवेदी की रिपोर्ट

No Slide Found In Slider.

देवरिया। आज जनपद के सलेमपुर तहसील अंतर्गत स्थित नगर के प्रतिष्ठित विद्यालय जी.एम.एकेडमी सीनियर सेकेंडरी स्कूल में राष्ट्रीय युवा दिवस पर स्वामी विवेकानंद जी की 159वीं जयंती मनाई गई।

कार्यक्रम की शुरुआत स्वामी विवेकानंद जी की प्रतिमा के समक्ष विद्यालय के प्रबंधक श्री प्रकाश मिश्र द्वारा दीप प्रज्जवलन एवं पुष्प अर्पित कर किया गया।

विद्यालय के प्रबंधक श्री मिश्र ने स्वामी विवेकानंद जी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि विवेकानंद केवल एक नाम ही नहीं, बल्कि भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता तथा प्रगतिशील विचारों का एक ऐसा अखण्ड दीप है, जिससे करोड़ों युवा जीवन में सदैव प्रकाशित होता रहते हैं। स्वामी विवेकानंद और रामकृष्ण परमहंस जैसे गुरु शिष्य का संबंध यदि आज के अध्यापकों एवं विद्यार्थियों में हो जाय तो आज भारत पुनः विश्वगुरु बन जाय। हमें स्वामी जी के जीवन से सीख लेनी चाहिए।

विद्यालय के उप प्रधानाचार्य मोहन द्विवेदी ने बताया कि स्वामी विवेकानंद युग प्रवर्तक एवं प्रत्येक भारतवासी के प्रेरणास्रोत हैं, जिन्होंने संपूर्ण विश्व को भारतीय संस्कृति के मूल्यों से पल्लवित किया तथा अपने प्रेरक विचारों से युवाओं में एक नया उत्साह भरते हुए राष्ट्र निर्माण हेतु नई चेतना जागृत की।

विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक के.एन.पांडेय ने बड़े ही प्रभावी ढंग से स्वामी विवेकानंद जी के शिकागो सम्मेलन से लेकर उनकी विद्वता, धार्मिकता, सदाचरण,आदि अनेकों बातों पर प्रकाश डाला।

राष्ट्रीय युवा दिवस के इस मौके पर दिलीप कुमार सिंह, अजय मिश्र, सुकेश कुमार मिश्र, धर्मेंद्र कुमार मिश्र, डाॅ. त्रिपुरारी मिश्र, एस.एन.पांडेय, एस.के गुप्ता, आशुतोष तिवारी, प्रमोद कुमार, वी.वी.सहदेव, पंकज मिश्र, डी.एन.उपाध्याय, ए.के. सिंह, दीपेंद्र मिश्र, बी.के.तिवारी, नरेन्द्र मिश्र, ज्ञ्यानेंद्र मिश्र, श्वेता राज, रागिनी मिश्रा, साक्षी उपाध्याय, ज्योति विश्वकर्मा, निधि द्विवेदी, भारती सिंह, सरिता तिवारी, रेनू सिंह, ललिता वर्मा, सरस्वती पांडेय, अमृता भारद्वाज,अनिता पांडेय, श्वेता तिवारी, संपूर्णानंद तिवारी, विकास विश्वकर्मा, परमहंस मिश्र, पुरंजय कुशवाहा, अमूल्य रत्न श्रीवास्तव आदि सभी अध्यापक अध्यापिकाएं उपस्थित थे।

Tags

कार्यकारी संपादक

कार्यकारी संपादक
Back to top button
Close
Close