google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0
उत्तर प्रदेशदेवरिया

कोविड गाइडलाइन का पालन कर मनाया गया परशुराम जयंती

मोहन द्विवेदी की रिपोर्ट

देवरिया जनपद के सलेमपुर क्षेत्रांतर्गत परशुराम धाम सोहनाग में भगवान परशुराम की जयंती को कोविड 19 के गाइडलाइन का पालन करते हुये मनाया गया। उक्त अवसर पर परशुराम जी के मंदिर पर भाजपा कार्यकर्ताओं द्वारा परशुराम चालीसा का पाठ किया गया।
मण्डल महामंत्री अशोक कुमार तिवारी ने कहा कि शक्ति एवम भक्ति के प्रतीक भगवान विष्णु के छठे अवतार शस्त्र एवं शास्त्र दोनों विधाओं के परमज्ञानी भगवान परशुराम त्रेता युग रामायण काल मे एक ब्राह्मण ऋषि के यहां जन्मे थे।

मण्डल उपाध्यक्ष आशुतोष तिवारी ने कहा कि पौराणिक वृत्तान्तों के अनुसार उनका जन्म महर्षि भृगु के पुत्र महर्षि जमदग्नि द्वारा सम्पन्न पुत्रेष्टि यज्ञ से प्रसन्न देवराज इन्द्र के वरदान स्वरूप पत्नी रेणुका के गर्भ से वैशाख शुक्ल तृतीया को मध्यप्रदेश के इंदौर जिला में ग्राम मानपुर के जानापाव पर्वत में हुआ। वे भगवान विष्णु के आवेशावतार हैं। पितामह भृगु द्वारा सम्पन्न नामकरण संस्कार के अनन्तर राम कहलाए। वे जमदग्नि का पुत्र होने के कारण जामदग्न्य और शिवजी द्वारा प्रदत्त परशु धारण किये रहने के कारण वे परशुराम कहलाये। इस जयंती के अवसर पर मण्डल मंत्री अजय दुबे वत्स,अनूप उपाध्याय, मनीष मिश्र,धर्मराज पांडेय मौजूद रहे।

News desk

हमारे साथ जुड़े रहने के लिए हमारा मोबाइल एप डाउनलोड करें - https://play.google.com/store/apps/details?id=com.newswp.samachardarpan24
Back to top button
google.com, pub-2721071185451024, DIRECT, f08c47fec0942fa0    
Close
Close